CCC kya hai – CCC कोर्स के फायदे, CCC कोर्स का सिलेबस

0
342
CCC क्या है - CCC कोर्स के फायदे, CCC कोर्स का सिलेबस

CCC Computer Course क्या है ?, CCC कैसे करे?, CCC से क्या फायदे है?, और CCC का सिलेबस क्या है?

क्या कभी अपने विचार किया है या सोचा है, की अगर कंप्यूटर के बिना ये दुनिया हो जाये तो कैसी होगी ?

क्या होगा अगर किसी को कंप्यूटर न चलाने आये, दोस्तों आज के जमाने में एक छोटे बच्चे के पास भी एंड्राइड फोन, लैपटॉप और कंप्यूटर होता है | किसी को अच्छी नौकरी चाहिए तो कंप्यूटर की जानकारी होना अति आश्वयक है |

CCC क्या है - CCC कोर्स के फायदे, CCC कोर्स का सिलेबस

आजकल तो बच्चो के दूसरी तीसरी कक्षा से ही कंप्यूटर की शिक्षा मिलनी शुरू हो जाती है | जिन्होंने नहीं सीखी है वो लोग अब बाहर   से कोर्सेज करके सिख रहे हैं |

आजकल कंप्यूटर कितना जरुरी हो चूका है ये तो आप सभी जानते ही होंगे | तो चलिए हम आपका समय व्यर्थ किये बिना आपको CCC की पुरी जानकारी देते है ।

Also Read: CCC Certificate kese downlod kare ?

Also Read: Interview kaise dena chahiye ? Best Interview Tips in Hindi

Also Read:IPS kaise bane, सैलरी, सिलेबस, योग्यता की पूरी जानकारी

CCC क्या है ? और CCC का पूरा नाम


ccc full nameCCC का पूरा नाम Course on Computer Concepts  होता है |

जैसा की नाम से ही पता चल रहा है कि इस कोर्स से कंप्यूटर के बारे में बेसिक नॉलेज प्राप्त होती है जैसे- ms word,  ms excel, power point, internet etcCCC गोवेरमेंट सर्टिफाइड कोर्स होता है | जिसे गोवेरमेंट संस्था Nielit चलती है |

NIELIT

Nielit का पूरा नाम National Institute of Electronics & Information Technology और हिंदी में इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रोद्योगिकी के राष्ट्रीय संस्थान है।

Nielit से पहले सीसीसी कोर्स DOEACC (Department Of Electronics And Accreditation Of Computer Classes) के द्वारा कराये जाते थे लेकिन अब सीसीसी कोर्स Nielit द्वारा आयोजित किया जाता है या ये कहा जा सकता है की DOEACC का नाम बदल कर Nielit कर दिया गया है |

CCC कोर्स करने के क्या फायदे हैं ?


सबसे पहले हम खुद के नॉलेज की बात करे तो इस कोर्स के द्वारा हमे कंप्यूटर से जुडी बेसिक नॉलेज हो जाती है हमें छोटी छोटी चीज़ो के लिए बार बार किसी के पास जाना नहीं पड़ता है या पूछना नहीं पड़ता है|

जैसे आपको कॉलेज में किसी टॉपिक से रिलेटेड प्रेजेंटेशन बनाना है यदि आपको पावर पॉइंट पर वर्क करना आता है तो आप आसानी से अपना प्रेजेंटेशन तैयार कर सकते है और यदि आप नहीं जानते की पावर पॉइंट पर कैसे वर्क करते है तो आपको मुश्किल होगी प्रेजेंटेशन तैयार करने में और शायद आपको किसी से हेल्प भी लेनी पड़े |

CCC कोर्स की सबसे महत्त्वपूर्ण बात ये है की इसे करने के लिए ज्यादा समय और ज्यादा खर्च नहीं देना होता है | इस कोर्स को करने के लिए आपको ज्यादा Qualification भी नई चाहिए होती है बल्कि आप इसे 10वी Class के बाद भी कर सकते हैं | 

CCC हमारे नौकरी में कैसे सहायता करता है ?


जैसा की हम जानते है कि आज के समय में लगभर सारे काम डिजिटल रूप में किया जा रहा है चाहे घर बैठे हमे अपने जरुरत की चीज़े ऑनलाइन मंगानी हो या ऑफिस में हमें कोई वर्क करना हो इसके लिए हमे इंटरनेट और कंप्यूटर की जानकारी होना बहुत जरुरी है |

गोवेरमेंट ने कई जॉब में CCC Course सर्टिफिकेट कम्पलसरी कर दिया है क्लर्क, स्टेनोग्राफर, पटवारी, ग्राम विकास अधिकारी, लेखपाल आदि जैसे पदों के लिए आप अप्लाई करते है तो CCC Course सर्टिफिकेट होना कम्पलसरी है |

अगर आप प्राइवेट सेक्टर में  भी जॉब सर्च करते है तो भी आपको कंप्यूटर की जानकारी होना आवश्यक है |

CCC कोर्स कहाँ से करे ?


सीसीसी आप 2 तरीके से कर सकते है पहला खुद से और दूसरा इंस्टिट्यूट से | आइये इन दोनों तरीको के बारे में और क्लियर शब्दो में बात करते है-

पहला खुद से का मतलब है कि आपको खुद से साइट पर जाना पड़ेगा और सीसीसी एग्जाम के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरना पड़ेगा |

फॉर्म की फ़ीस 590 Rs/- ऑनलाइन पेमेन्ट करना पड़ेगा और आपको खुद से सीसीसी एग्जाम की तैयारी करनी पड़ेगी |

इसके लिए आप यूट्यूब, बुक्स आदि से सीसीसी के एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं |

CCC form

CCC एग्जाम के ऑनलाइन फॉर्म भरने के लिए आप www.sarkariresult.com , www.rojgarresult.com या  Nielit के ऑफिसियल वेबसाइट https://student.nielit.gov.in से अप्लाई कर सकते है |

Instructions :

  • अप्लाई करने के 2 महीने बाद आपका एडमिट कार्ड साइट पर अवेलबल हो जाता है और आप एग्जाम दे सकते हो |
  • एडमिट कार्ड आया है या नहीं उसके लिए आपको साइट पर जा कर चेक करते रहना होगा |
  • जब एग्जाम में कुछ दिन (लगभग 1 सप्ताह ) बाकि होते है तो एडमिट कार्ड साइट पर अवेलबल हो जाता है |
  • CCC एग्जाम हर महीने चलता रहता है | निर्भर करता है की अपने कब फॉर्म भरा है उसके 2  महीने बाद आपका एग्जाम होगा |

दूसरा इंस्टिट्यूट से का मतलब है कि Nielit द्वारा मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट को ज्वाइन कर सकते है | लेकिन इस मेथड में 590 Rs/- फॉर्म फीस के अलावा टूशन फीस लगभग (2500 -3000 Rs/-) देने होते है | इंस्टिट्यूट ज्वाइन करने से सीसीसी एग्जाम का फॉर्म भरना, एडमिट कार्ड डाउनलोड करना,  और एग्जाम की तैयारी करवाना इंस्टिट्यूट की जिम्मेदारी होती है |

CCC कोर्स का सिलेबस


  • कंप्यूटर का परिचय ( Introduction to Computer )
  • जीयूआई आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम परिचय ( Introduction to GUI Operating System)
  • शब्द संसाधन के तत्व (Elements of word processing)
  • स्प्रेडशीट (Spreadsheets)
  • कम्प्यूटर संचार एवं इंटरनेट (Computer communication and internet)
  • WWW तथा वेब ब्राउज़र (WWW and web browser)
  • संचार एवं सहयोग (Communication and cooperation)
  • छोटे प्रस्तुतीकरण का निर्माण (Creation of small presentations)

CCC एग्जाम पैटर्न


CCC एग्जाम में 100  Multiple Type Objective Questions आते है और 100 Questions में से पास होने के लिए आपके 50 Questions सही होना जरूरी होता है | आपका एग्जाम 90 मिनट का होता है | इस एग्जाम में Negative marking नहीं होती है | लगभग (30 -40) % True False Questions आते हैं |

प्रत्येक Questions के लिए 30 सेकंड फिक्स होते है | यानि Question की टाइमिंग complete होने के बाद ही आप अगले Question पर जा सकते है | आसान शब्दो में, आप कोई Question छोड़ कर आगे का Question करना चाहते है तो आपको 30 सेकण्ड का इंतज़ार करना होगा | और यदि आपका पीछे वाला Question गलत हो गया है और आपको उसको सही करने के लिए फिर से उस Question पे जाना है तो आपको प्रजेंट के Question का 30 सेकेण्ड इंतज़ार करके पीछे के Questionपर जा सकेंगे और फिर पिछले Question का 30 सेकण्ड ख़त्म होने के बाद ही आप अगले यानि की उस Question पर आ सकेंगे जिससे आप पिछले Question पर गए थे |

इन सब में आपका बहुत टाइम खराब हों सक्ता है तो आप इस बात का ध्यान दे की एक बार में ही Question का सही बिकल्प चुने| मैं यह गलती कर चुकी हूँ और मैं नहीं चाहती की आप भी यह गलती करे | इसलिए मैंने आपसे ये शेयर करना जरूरी समझा ताकि आप वो गलती न करे जो मैंने करी थी |

CCC का एग्जाम इंग्लिश और हिंदी ( या Regional language ) दोनों में होता है |

CCC ग्रेड मार्क्स


Correct Answer Grade
75% – 84%A
65% – 74%B
55% – 64%C
50% – 54%D
>= 85%S
fail (< 50%)F

ग्रेड से ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है क्युकि केवल सर्टिफिकेट माँगा जाता है लेकिन मान लीजिये किसी गोवेरमेंट जॉब में आपका सेलेक्शन होता है और आपके साथ किसी और का भी सेलेक्शन होता है तो वहाँ डोक्युमेंट वेरिफिकेशन के टाइम दोनों का ग्रेड देखा जा सकता है | अगर आपको और अच्छा ग्रेड लाना है तो सीसीसी के एग्जाम के लिए आप दुबारा से अप्लाई कर सकते है |

ccc result

एग्जाम होने के लगभग 1 महीने बाद आपका रिजल्ट साइट पर अवेलेबल हो जाता है और उसके लगभग 1 महीने बाद सर्टिफिकेट अवेलेबल हो जाता है |

Also Read: CCC Certificate kese downlod kare ?

Also Read: Interview kaise dena chahiye ? Best Interview Tips in Hindi

Also Read:IPS kaise bane, सैलरी, सिलेबस, योग्यता की पूरी जानकारी

संक्षेप में

आज के पोस्ट में हमने ऐसे कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त की जो की हमारे नौकरी और कंप्यूटरसे रिलेटेड बेसिक नॉलेज में सहायक होता है | CCC कोर्स से रेलेटेड सभी जानकारिया हमने इस पोस्ट में दी है CCC Computer Course क्या है ?, CCC कैसे करे?, CCC से क्या फायदे है?, और CCC का सिलेबस क्या है?

हेलो दोस्तो , मैं आशा करती हू कि आपको ये CCC kya hai – CCC कोर्स के फायदे, CCC कोर्स का सिलेबस post पसंद आई होगी | अगर आपके पास इस post के सम्बन्ध में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे comment करके बताये और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Social Media पे जरूर शेयर करें |

इस तरह की और Post की जानकारी पाने के लिए आप हमारी egyanhub की Website के Notification को ज़रूर Subscribe करे जिससे आपतक हमारे New Article के बारे में Latest Update मिल सके | तो दोस्तों हम फिर मिलेंगे कुछ इसी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारियों के साथ नए पोस्ट में जो की आपके Career के लिए अच्छी होगी |

https://youtu.be/HM8yrGortqk

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here