EducationInformation

VPN kya hai ? kaise kam karta hai aur ise kaise use karte hain in hindi

आज हम इस लेख में यह जानेंगे कि VPN kya hai ? kaise kam karta hai aur ise kaise use karte hain in hindi, दोस्तों आज के युग में शायद ही आपको कोई ऐसा व्यक्ति मिले जो इंटरनेट नहीं इस्तेमाल (use) करता हो। हम सभी इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। इंटरनेट पर हम अपनी मनचाही वेबसाइट्स (websites) पर जा कर अपने काम की जानकारी हासिल कर लेते हैं। हमारा रोजमर्रा का जीवन तो अब सुबह इंटरनेट से ही शुरू होता है और रात में इंटरनेट से ही ख़त्म होता है।

सुबह से शाम तक हम ना जाने इंटरनेट पर कितने सारे काम करते हैं ? व्हाट्स ऐप (WhatsApp) के मैसेज से लेकर ऑनलाइन बैंकिंग (Online Banking), यूट्यूब (YouTube), टिक टॉक (Tik Tok) की वीडियो से लेकर फिल्मों की ऑनलाइन बुकिंग (Online booking) तक। इस दौरान हम जाने अनजाने में इंटरनेट पर बनी वेबसाइट्स (websites) को सिर्फ अपनी पहचान ही नहीं बल्कि अपना मोबाइल नंबर, ईमेल (Email), अपने घर का पता आदि भी दे देते हैं जबकि हमें पता भी नहीं होता कि हम अपनी निजी जानकारी इंटरनेट पर डालकर अपनी ही सुरक्षा को खतरे में डाल रहे हैं और स्वयं ही हैकर्स (hackers) और उनसे होने वाली मुसीबतों को न्योता दे रहे हैं। हैकर्स (hackers) तो इसी ताक में रहते हैं कि कब उन्हें मौका मिले और आपको अपने जाल में फँसा कर आपसे पैसे ऐंठे या आपकी जान को खतरे में डाल सकें। 

वीपीएन से परिचय

कभी कभी जब हम इंटरनेट पर अपनी मन चाही वेबसाइट नहीं खोल पाते तब हमें निराशा होती है। क्या आपके साथ कभी ऐसा हुवा है कि आपने कोई वेबसाइट (website) खोली हो पर वह नहीं खुली क्योंकि वह वेबसाइट (website) आपके देश में प्रतिबंधित (banned) है। पर निराश होने की कोई बात नहीं है क्योंकि आज हम इसी बारे में चर्चा करेंगे कि “कैसे साँप भी मर जाये और लाठी भी ना टूटे” यानी के हमारी सुरक्षा (security) भी बरकरार रहे और हम अपना मन चाहा काम भी इंटरनेट पर बिना किसी खतरे के कर सकें।

तो आईये आपका वीपीएन (VPN) से परिचय कराता हूँ, जो हमें इंटरनेट जगत में सुरक्षित लेकर जा सकता है और हमारी सुरक्षा को बरकरार रखते हुवे हमारा काम पूरा कराने में हमारी मदद भी कर सकता है। आप लोगों में से कुछ लोग ऐसे भी होंगे जिन्हे पता होगा के वीपीएन (VPN) क्या है ? परन्तु क्या आपने सोचा है कि यह काम कैसे करता है ?, इसका उपयोग और इसके फायदे क्या हैं? 

वीपीएन (VPN) से परिचय

वीपीएन क्या है?

वीपीएन (VPN) का पूर्ण नाम है वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (virtual private network)। जहाँ प्राइवेट की बात आती है वहाँ सबसे पहले हमारे मन में स्वयं का यानि खुदका शब्द उभर कर आता है। जी हाँ! वीपीएन (VPN) एक तरह का हमारा निजी नेटवर्क सर्विस (Private Network Service) होता है जो हमारे और इंटरनेट के बिच संपर्क बनाता है

इस बात से आपके मन में एक और सवाल आ रहा होगा कि जब हम इंटरनेट से सीधे जुड़ रहे हैं तो ऐसे में हमें प्राइवेट नेटवर्क सर्विस की क्या जरुरत ? मैं आप सभी को यह जानकारी देना चाहूँग कि हम इंटरनेट से भले ही जुड़ जाते हैं अपने मोबाइल, कंप्यूटर तथा अन्य साधनों के जरिये परन्तु हमारी सिक्योरिटी (Security) को इंटरनेट के खतरों की संभावना होती है।

ऑनलाइन सर्विसेज (Online Services) जैसे बैंकिंग (banking), मनी ट्रांसफर (Money Transfer), हॉस्पिटल इनफार्मेशन (hospital information), एजुकेशनल इनफार्मेशन (educational information) आदि इंटरनेट के जरिये ही आज संभव है। ऐसे में जानकारी का लीक (leak) होना संभव है। वीपीएन (VPN) ऐसी सेवा प्रणाली तकनीक है जो हमे इंटरनेट के पब्लिक नेटवर्क और प्राइवेट नेटवर्क से सुरक्षित जोड़ती है। हम वीपीएन के जरिये इंटरनेट पर कोई भी काम सुरक्षित रह कर कर सकते हैं।

VPN (वीपीएन) क्या है ?

उदाहरण (example)

उदाहरण के तौर पर मैं आपको यह बताना चाहूंगा की आप यह जो लेख पढ़ रहे हैं यह आपके सामने कैसे आया ? यह लेख गूगल (google) के किसी डेटा सेंटर (data center) जो की दुनिया भर में कई जगहों पर मौजूद हैं, में से किसी एक सेण्टर में मौजूद होगा। जब आपने अपने मोबाइल या कंप्यूटर से इस लेख के बारे में सर्च (search) किया। गूगल ने देखा की आपके आईपी एड्रेस (IP address) से एक सर्च (search) किया गया है।

अब गूगल ने अपने सारे डेटा सेंटर्स (data centers) में ढूंढा की आपके IP address से जो सर्च किया गया है वह किस डेटा सेंटर में हैं? जैसे ही गूगल को आपके द्वारा सर्च की हुई जानकारी किसी डेटा सेंटर में मिली उस डेटा सेंटर में गूगल (google) नेआपका IP address दर्ज किया और आपको इस लेख की जानकारी आपके स्क्रीन पर दिखा दी।

आप जान चुके होंगे की आपका आईपी एड्रेस (IP address) अब गूगल से छुपा नहीं रह गया है। यदि जाने अनजाने में आपके उसी IP address से कोई अवैध जानकारी सर्च की गयी या फिर प्रतिबंधित वेबसाइट (banned website) को खोलने की कोशिश की गयी तो पुलिस को आप तक पहुँचने में तनिक भी देर नहीं लगेगी।

वीपीएन (VPN) हमें ऐसे खतरों से बचाता है। हमारी पहचान (Identity), IP address को इंटरनेट पर गोपनीय रखता है और हमें प्रतिबंधित वेबसाइट्स (restricted websites) को access करने में भी मदद करता है।

 उदाहरण (example)

कैसे काम करता है ?

डेटा (data) आपके कंप्यूटर या मोबाइल से आपके वीपीएन (VPN) नेटवर्क के किसी एक बिंदु (point) पर प्रेषित (sent) होता है। वह VPN बिंदु आपके डेटा को एन्क्रिप्ट (encrypt) करता है और उसे इंटरनेट के माध्यम से आगे भेजता है। आपके वीपीएन (VPN) नेटवर्क का एक अन्य बिंदु (other VPN point) भेजे हुवे डेटा को डिक्रिप्ट (decrypt) करता है और इसे उपयुक्त इंटरनेट संसाधन, जैसे कि वेब सर्वर, ईमेल सर्वर या आपके सर्च किये हुवे सर्वर पर भेजता है।

तब इंटरनेट सर्वर आपके वीपीएन नेटवर्क के किसी एक बिंदु पर आपके द्वारा सर्च किया हुवा डाटा का सर्च रिजल्ट (search result) भेजता है, जहां यह सर्च रिजल्ट एन्क्रिप्ट (encrypt) हो जाता है। उस एन्क्रिप्टेड डेटा (encrypted data) को इंटरनेट के माध्यम से आपके वीपीएन नेटवर्क के दूसरे बिंदु पर भेजा जाता है, जो डेटा को डिक्रिप्ट (decrypt) करता है और इसे आपके मशीन में स्क्रीन पर वापस भेजता है।

VPN कैसे काम करता है ?

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन प्रक्रिया (encryption and decryption process)

वीपीएन एक एन्क्रिप्टेड कनेक्शन (encrypted connection) का उपयोग करता हैं जिसे एक टनल (TUNNEL) भी कहा जाता है। 

कुछ वेबसाइट्स (websites) ऐसी हैं जो की सिर्फ किसी विशेष देश या जगह के लिए बनी हैं। उस देश या उस जगह के अलावा उन वेबसाइट्स (websites) को कही और खोला नहीं जा सकता है।

ऐसे में VPN आपकी IP address कि लोकेशन बदल कर उसी जगह या देश की कर देता है जहा वह वेब साइट खुल सकती है। इस प्रकार आपकी उस वेब साइट को खोलने में VPN मदद करता है।

मान लीजिये कोई वीडियो (video) है जो की सिर्फ जर्मनी (GERMANY) में ही देखी जा सकती है परन्तु आप भारत (INDIA) में रहते हुवे भी चाहते हैं की आप वह वीडियो देखें। अगर आप अपने ब्राउज़र (browser) से देखना चाहेंगे तो नहीं देख सकते। यदि वही वीडियो VPN कि सहायता से देखना चाहें तब VPN आपकि लोकेशन (IP address location) को ऊपर बताये गए एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन प्रक्रिया के माध्यम से बदल कर जर्मनी का कर देता है। उसके बाद जब आप अपने ब्राउज़र (browser) में वह वीडियो सर्च करते हैं तब उसे वीडियो सर्वर को आपका IP address जर्मनी (GERMANY) का दिखाई देता है। अतः वह सर्वर आपके स्क्रीन पर उस वीडियो को प्रसारित कर देता है।

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन प्रक्रिया (encryption and decryption process)

मुफ्त वीपीएन (VPN)

कुछ VPN कम्पनियाँ आपको मुफ्त वीपीएन (VPN) भी देती हैं और भुगतान किया गया (Paid VPN) भी प्रदान करती हैं। इन्हे कंप्यूटर और मोबाइल दोनों में इस्तेमाल किया जा सकता है। इंटरनेट पर बहुत सरे VPN आपको मुफ्त में मिल जायेंगे। जैसे –

मुफ्त वीपीएन (VPN) के कुछ फायदे भी हैं और नुकसान भी।

मुफ्त वीपीएन (VPN)

मुफ्त VPN के फायदे और नुकसान

यह मुफ्त है :- सबसे पहला फायदा तो ये हैं कि यह मुफ्त है। जब कोई चीज़ हमे मुफ्त में मिले तो उसका लाभ कौन नहीं उठाना चाहेगा ?

ब्राउज़र के साथ एकीकृत है (integrated with browser) :- किसी-किसी ब्राउज़र जैसे गूगल क्रोम (Google chrome) में यह पहले से ही होता है एक्सटेंशन (extension) के रूप में। touchvpn इसका जीता जगता उदाहरण है।

गति (speed) :- मुफ्त वीपीएन (VPN) धीमी गति से ब्राउज़िंग करता है।

स्थिरता (stability) :- मुफ्त वीपीएन (VPN) का कनेक्शन (connection) स्थिर नहीं होता है।

IP address log :- मुफ्त वीपीएन (VPN) आपकी सभी सामग्री और आपके IP address कि जानकारी रख (log) सकते हैं।

नज़र रखना :- आपके द्वारा देखी जाने वाली साइटों के प्रकार आदि पर नज़र रख सकते हैं। मुफ्त वीपीएन (VPN) से कभी भी आप नेट बैंकिंग ना करें। 

मुफ्त VPN के फायदे और नुकसान

भुगतान किया गया वीपीएन (Paid VPN)

जाहिर सी बात है जहाँ आपके पैसे लगते हों वहाँ आपकी बेहतर सेवा की सम्भावना तो होनी ही है। VPN की कुछ ऐसी सेवायेँ हैं जो आपको मुफ्त में नहीं मिलती हैं। उन्हें इस्तेमाल करने के लिए आपको भुगतान करना पड़ता है। भुगतान किये गये वीपीएन (Paid VPN) कि कम्पनियाँ बेहतर सेवा का दावा भी करती हैं।

कुछ paid VPN :-

 भुगतान किया गया वीपीएन (Paid VPN)

भुगतान किये गये वीपीएन (Paid VPN) के फायदे

यदि आप कहीं पैसे निवेश (invest) करते हैं तो ना ही आप चाहेंगे कि आपका नुकसान हो ना ही कंपनी चाहेगी कि वह अपने ग्राहकों का नुकसान करे। अतः भुगतान किये गये वीपीएन (PAID VPN) के बहुत सारे फायदे हैं। 

Paid VPN के निम्न प्रकार के फायदे हैं –

ग्राहक सहायता :- भुगतान किये गये वीपीएन (PAID VPN) गुणवत्ता ग्राहक सहायता ( best customer service) प्रदान करते हैं।

उच्च गति :- पेड वीपीएन (PAID VPN) उपयोगकर्ताओं को उच्च गति वाले सर्वर तक पहुंच प्रदान करते हैं।

सुरक्षा :- भुगतान किए गए वीपीएन जानते हैं कि निजी उपयोगकर्ता डेटा को कैसे सुरक्षित रखा जाए।

विश्वसनीयता :- एक पेड वीपीएन सेवा विश्वसनीय कनेक्शन की गारंटी देती है।

एन्क्रिप्शन :- जब आप paid वीपीएन के माध्यम से नेटवर्क से जुड़ते हैं, तो डेटा को मजबूत सुरक्षा प्रणाली से एन्क्रिप्टेड रखा जाता है। इस तरह, जानकारी हैकर्स की नज़रों से दूर रहती है।

शेयर करना :- यदि आपको ग्रुप में डेटा शेयर करना हो तो भी paid VPN बहुत ही फायदेमंद है।

गुमनामी :- paid वीपीएन के माध्यम से आप गुमनामी में वेब ब्राउज़ कर सकते हैं। आईपी ​​सॉफ्टवेयर या वेब प्रॉक्सी को छिपाने की तुलना में, वीपीएन सेवा का लाभ यह है कि यह आपको गुमनामी में वेब एप्लिकेशन और वेबसाइटों दोनों का उपयोग करने की अनुमति देता है।

भुगतान किये गये वीपीएन (Paid VPN)  के फायदे

VPN का इस्तेमाल मोबाइल और कंप्यूटर में कैसे करें ?

हमने उपर्युक्त जानकारियों से यह ज्ञात कर लिया है कि VPN क्या है ? कैसे काम करता है ? परन्तु अबतक हमे यह नहीं पता चला है कि आखिर इसका इस्तेमाल कैसे करते हैं ? तो आईये अब अग्रसर होते हैं ” VPN का इस्तेमाल मोबाइल और कंप्यूटर में कैसे करें? “ की तरफ।
VPN का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान होता है। बस कुछ स्टेप्स फॉलो (steps follow) करने की जरुरत और हमारा VPN इस्तेमाल के लिए तैयार। आप सभी को मैं यह बताना चाहूंगा कि सभी कम्पनियाँ अपने VPN को मोबाइल यूज़र्स के लिए भी बनाती हैं और कंप्यूटर उज़र्स के लिए भी। जैसे – NordVPN मोबाइल के लिए भी गूगल प्ले स्टोर पर तथा इसकी वेबसाइट पर कंप्यूटर यूज़र्स के लिए भी उपलब्ध है।

VPN का इस्तेमाल मोबाइल और कंप्यूटर में कैसे करें ?

Also Read: Dark Web kya hai aur kaise kam karta hai?

Also Read: Interview kaise dena chahiye ? Best Interview Tips in Hindi

Also Read: CCC क्या है ?, CCC कैसे करे?, CCC से क्या फायदे है?, और CCC का सिलेबस क्या है?

Also Read: SAINIK SCHOOL ME ADMISSION KAISE LE?

मोबाइल में इस्तेमाल कैसे करें ?

आप अपने मोबाइल या स्मार्ट फ़ोन (smart phone) की सहायता से प्ले स्टोर में जा कर मुफ्त VPN डाउनलोड कर सकते हैं।आपकी सहायता के लिए मैं मुफ्त Protonvpn की मदद लूंगा। तो आईये सीखते हैं कैसे Protonvpn को अपने मोबाइल या स्मार्टफोन में use कर सकते हैं ?

  • अपने मोबाइल फ़ोन के गूगल प्ले स्टोर को खोलकर उसमे Protonvpn सर्च करें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

Protonvpn सर्च करें।
  • उसे इनस्टॉल करें और Protonvpn app को खोलें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
Protonvpn app को खोलें।
  • APP को खोलने के पश्चात आपके मोबाइल स्क्रीन पर स्किप (SKIP) और नेक्स्ट (NEXT) आएगा।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

स्किप (SKIP) और नेक्स्ट (NEXT)
  • तब तक नेक्स्ट (NEXT) करें जबतक आपको साइनअप (SIGNUP) और लॉगिन (LOGIN) ना दिखाई दे।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

SIGNUP
  • SIGN UP की सहायता से आप APP कि वेबसाइट पर जाकर FREE सेवा को चुनकर SIGNUP सेलेक्ट करें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

SIGNUP
  • दिए हुवे विवरण को भरें जैसे कि यूज़रनेम, पासवर्ड, कन्फर्म पासवर्ड, आपका ईमेल जो वर्तमान में सक्रीय हो और CREATE ACCOUNT को सेलेक्ट करें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

CREATE ACCOUNT
  • आपके द्वारा दिए हुवे ईमेल पर आपको एक वारीफिकेशन कोड (verification code) आएगा। उस कोड को सामने आये हुवे स्क्रीन पर भरें और वेरीफाई (VERIFY) को सेलेक्ट करें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

VERIFY
  • अब आप वापस Protonvpn कि SIGNUP और LOGIN वाली स्क्रीन पर आ जाएँ और c को सेलेक्ट करें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

LOGIN
  • LOGIN स्क्रीन पर अपना यूज़रनेम और पासवर्ड जो आपने SIGNUP करते वक़्त लिखा था वह लिखें और LOGIN को सेलेक्ट करें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

LOGIN
  • आपके सामने वेलकम (welcome) स्क्रीन आएगी उसे GOT IT को सेलेक्ट करके हटा दें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

वेलकम (welcome)
  • अब आपके सामने protonvpn खुल चूका है जहाँ आपको बहुत सरे देशों के नाम दिखाई देंगे । सामने आयी हुयी स्क्रीन पर use secure core को ऑन चालू (on) कर लें।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

use secure core
  • मैंने इस लेख में GERMANY देश का उल्लेख किया है तो उदाहरण के लिए मैंने स्क्रीन पर दिए हुवे देशों में से उसी देश GERMANY को चुना। आप किसी अन्य देश को भी चुन सकते हैं।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

GERMANY
  • GERMANY के निचे आपको एक और जगह का नाम दिखेगा via Iceland, उसे जैसे ही सेलेक्ट करेंगे connect का ऑप्शन (option) आ जायेगा।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

connect
  • अब connect को सेलेक्ट करें। जैसे ही connect को सेलेक्ट करते हैं connection request की स्क्रीन आ जाएगी। उसे OK कर दें ।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

connection request की स्क्रीन आ जाएगी। उसे OK कर दें ।
  • जैसे ही आप OK करते हैं आपका VPN कनेक्ट (connect) हो जायेगा।
मोबाइल में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
VPN कनेक्ट (connect) हो जायेगा।


अब आप VPN का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप जो भी ब्राउज़िंग अपने मोबाइल से करेंगे वह VPN के जरिये होगी और आपके द्वारा किये हुवे सर्च में आपकी अपनी जगह का नहीं बल्कि GERMANY का IP address सर्च किये हुवे सर्वर (server) को जायेगा।

Also Read: Dark Web kya hai aur kaise kam karta hai?

Also Read: Interview kaise dena chahiye ? Best Interview Tips in Hindi

Also Read: CCC क्या है ?, CCC कैसे करे?, CCC से क्या फायदे है?, और CCC का सिलेबस क्या है?

Also Read: SAINIK SCHOOL ME ADMISSION KAISE LE?

कंप्यूटर में इस्तेमाल कैसे करें ?

अब हम जानेंगे आप अपने “कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?” जिस तरह से मोबाइल के लिए कुछ VPN मुफ्त हैं ठीक वैसे ही कंप्यूटर के लिए भी हैं। बस दोनों के इस्तेमाल करने के तरीकों में थोड़ा सा ही अंतर है। तो आईये अब जानते हैं कि कंप्यूटर में कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं ? यहाँ भी मैं protonvpn का ही उदहारण लूँगा। उससे पहले आपको यह बताना चाहूँगा कि अगर आपने मोबाइल के लिए protonvpn कि वेबसाइट पर SIGNUP पहले से ही किया हुवा है तब आपको कंप्यूटर के लिए दुबारा SIGNUP करने की जरुरत नहीं है। यदि नही किया है तो SIGNUP करना पड़ेगा।

  • तो सबसे पहले अपने गूगल क्रोम, फायर फॉक्स या इंटरनेट एक्स्प्लोरर में protonvpn लिख कर सर्च करें तो आपके सामने protonvpn का सर्च रिजल्ट (search result) आएगा। protonvpn कि वेबसाइट पर क्लिक (click) करें। 
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • protonvpn की वेबसाइट खुलते ही आपके सामने GET PROTONVPN NOW का ऑप्शन आएगा उसपर क्लिक करें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • GET PROTONVPN NOW खुलने के बाद आप FREE सेवा के निचे दिए हुवे ऑप्शन GET FREE पर क्लिक करें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • जब आपके सामने स्क्रीन पर SIGNUP पेज (page) आएगा। वहाँ दिए गए निर्देशानुसार अपना यूज़रनेम, पासवर्ड और ईमेल भरें।

            यदि पहले से ही आपने SIGN UP किया हुवा है तब आपको SIGNUP करने कि जरुरत नहीं है। आपको SIGNUP कि जगह LOGIN पर क्लिक करना है।

            SIGNUP में पूछी गयी जानकारी भरने के बाद आपको CREATE ACCOUNT पर क्लिक करना है।

कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • SIGNUP करने के बाद आपको वेरिफिकेशन कोड (verification code) भेजने के लिए दो ऑप्शन आएंगे ईमेल और SMS तो आप ईमेल को सेलेक्ट करके अपने ईमेल पर वारीफिकेशन कोड भेजें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • आपके ईमेल पर आया हुवा कोड वारीफिकेशन पेज में पूछी गयी जगह पर भरें और वेरीफाई पर क्लिक कर दें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • वेरिफिकेशन के बाद आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर डाउनलोड पेज खुल जायेगा। अपने ऑपरेटिंग सिस्टम के अनुरूप आप डाउनलोड पर क्लिक करें। जैसे मेरा ऑपरेटिंग सिस्टम windows 7 है तो मैंने windows का ऑप्शन चुना।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • डाउनलोड कर के अपने कंप्यूटर में सेव कर लें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • अब उस सेव की हुई protonvpn की फाइल (setup file) को run करें और निर्देशानुसार software को इनस्टॉल (install) करें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • सॉफ्टवेयर इनस्टॉल होने के बाद उसे खोलें तथा अपना यूज़रनेम और पासवर्ड डालकर LOGIN करें।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • protonvpn सॉफ्टवेयर खोलने के बाद कंप्यूटर पर आयी हुई स्क्रीन में बायीं तरफ आपको बहुत से देशों के नाम मिल जायेंगे।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • स्क्रीन पर दिए हुवे देशों में से किसी भी एक देश को चुन कर उसपर क्लिक करें। जैसे ही आप दिए हुवे देशों में से किसी एक देश पर क्लिक करते हैं, जैसे मैंने GERMANY पर किया है तब आपको उस देश में मौजूद सभी वीपीएन सर्वर (VPN server) दिखाई देंगे।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • उनमे से किसी एक पर यदि आप अपने माउस का कर्सर रखते हैं तो आपको कनेक्ट (connect) दिखाई देगा।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?
  • कनेक्ट (connect) पर जैसे ही आप क्लिक करते हैं आपका VPN कनेक्ट हो जायेगा और आप इसे आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं।
कंप्यूटर में VPN का इस्तेमाल कैसे करें ?

अब आप जो भी ब्राउज़िंग अपने कंप्यूटर से करेंगे वह VPN के जरिये होगी और आपके द्वारा किये हुवे सर्च (search) के सर्वर को आपकी अपनी जगह का नहीं बल्कि उस देश का IP address जायेगा जिसके जरिये आपने अपना VPN कनेक्ट किया है।

निष्कर्ष (conclusion)

वीपीएन गोपनीयता, प्रमाणीकरण, अखंडता और एंटी-रिप्ले जैसी सुविधाएँ प्रदान करता हैं। सेंसरशिप के साथ-साथ डेटा उल्लंघनों और पहचान की चोरी की घटनाओं की संख्या बढ़ रही है, सुरक्षा और गोपनीयता पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण हो चुकी है। निष्कर्ष से हम एक ऐसे बिंदु पर आते हैं, जहाँ वीपीएन (VPN) को वेब पर हमें बचाने के लिए एक आवश्यक हिस्सा माना जाना चाहिए, क्योंकि दूसरों को यह ये देखने से रोकता है कि आप क्या देखते हैं और कैसे देखते हैं ? उम्मीद है, इस मार्गदर्शक ने आपके लिए यह समझना आसान बनाया है कि वीपीएन क्या है ?, कैसे काम करता है ? और वीपीएन सेवाओं को कैसे इस्तेमाल करना है।

निष्कर्ष (conclusion)

Also Read: Dark Web kya hai aur kaise kam karta hai?

Also Read: Interview kaise dena chahiye ? Best Interview Tips in Hindi

Also Read: CCC क्या है ?, CCC कैसे करे?, CCC से क्या फायदे है?, और CCC का सिलेबस क्या है?

Also Read: SAINIK SCHOOL ME ADMISSION KAISE LE?

संक्षेप में

तो दोस्तों आज हमने यह जाना की VPN kya hai ? kaise kam karta hai aur ise kaise use karte hain in hindi, मुफ्त वीपीएन (free VPN) और भुगतान किया गया वीपीएन (PAID VPN) क्या होता है ? इसके फायदे और नुकसान क्या हैं ?, VPN को मोबाइल और कंप्यूटर में कैसे इस्तेमाल करें। प्रतिबंधित वेबसाइट को VPN की मदद से कैसे खोल सकते हैं इत्यादि।

दोस्तों, मैं आशा करता हूँ कि आपको यह VPN kya hai ? kaise kam karta hai aur ise kaise use karte hain in hindi post पसंद आया होगा | अगर आपके पास इस post के सम्बन्ध में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे comment करके जरूर बतायें और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Social Media पर जरूर शेयर करें |

इस तरह की और Post की जानकारी पाने के लिए आप हमारी egyanhub की Website के Notification को ज़रूर Subscribe करे जिससे आप को हमारे New Article के बारे में Latest Update मिल सके | तो दोस्तों हम फिर मिलेंगे कुछ इसी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारियों के साथ नए पोस्ट में।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close